DDL Exam

DDL Exam

DDL Exam

DDL Exam

DDL Exam

Fundamentals Of Computer :-

Function of a Computer

कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो डेटा को अक्सेप्ट करता है, डेटा पर प्रोसेस करता हैं और आउटपूट जनरेट करता है और इस डेटा को स्‍टोर करता हैं।


कंप्‍यूटर का कांसेप्ट इनपूट डेटा से आउटपूट इनफॉर्मेशन को जनरेट करना हैं।

Input:

कीबोर्ड जैसे इनपुट डिवाइसेस से कंप्यूटर इनपुट डेटा को स्वीकार करता है। इनपुट डेटा कैरेक्‍टर, वर्ड, टेक्‍स्‍ट, साउंड, इमेज, डयॉक्‍युमेंट आदि कुछ भी हो सकता हैं।

 

Process:

कंप्यूटर इनपुट डेटा पर प्रोसेस करता है। इसके लिए, यूजर द्वारा दिए गए इंस्‍ट्रक्‍शन या प्रोग्राम का उपयोग करके डेटा पर कुछ एक्‍शन करता है।

यह एक्‍शन अरिथमेटिक या लॉजीक कैल्‍यूकेशन, एडिटिंग, डयॉक्‍यूमेंट को मॉडिफाइ करना, आदि हो सकती है।

प्रोसेसिंग के दौरान, डेटा, इंस्‍ट्रक्‍शन और आउटपुट को कंप्यूटर की मुख्य मेमोरी में टेम्पररी स्‍टोर किया जाता है।

 

Output:

डेटा पर प्रोसेस होने के बाद जनरेट हुए रिजल्‍ट ही आउटपुट हैं। यह आउटपुट टेक्‍स्‍ट, साउंड, इमेज, डयॉक्‍युमेंट आदि के रूप में हो सकता है।

कंप्यूटर मॉनिटर पर आउटपुट डिस्‍प्‍ले होता है इसे सॉफ्टकॉपी कहां जाता हैं, प्रिंटर से प्रिंट लिया जाता हैं इसे हार्डकॉपी कहां जाता हैं।

 

Storage:

इनपुट डेटा, इंस्‍ट्रक्‍शन और आउटपुट को परमानेंटली डिस्‍क या टेप जैसे सेकंडरी स्‍टोरेज डिवाइसेस में स्‍टोर किया जाता हैं। इस स्‍टोर डेटा को बाद में रिट्रीव किया जा सकता है, जब भी आवश्यक हो।

 

Data processing cycle of computer

Computer Fundamentals in Hindi – कंप्यूटर डेटा प्रोसेसिंग कोई भी प्रक्रिया है जो कंप्यूटर प्रोग्राम डेटा एंटर करने और सारांशित करने, विश्लेषण करने या डेटा को उपयोग करने योग्य इनफॉर्मेशन में बदलने के लिए करता है।

प्रोसेस आटोमेटेड हो सकती है और कंप्यूटर पर चल सकती है।

इसमें रिकॉर्डिंग, विश्लेषण, स्‍टोरिंग, सारांश और डेटा संग्रहीत करना शामिल है।

क्योंकि जब यह अच्छी तरह से प्रस्तुत किया जाता है और इनफॉर्मेशनपूर्ण होता है तो डेटा सबसे उपयोगी होता है।

 

The Data Processing Cycle:

डाटा प्रोसेसिंग चक्र:

डेटा प्रोसेसिंग साइकल में उन सभी गतिविधियों का वर्णन किया जाता हैं, जो मैन्युअल से इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम तक सभी डेटा प्रोसेसिंग सिस्टम के लिए सामान्य हैं।

इन गतिविधियों को चार कार्यात्मक श्रेणियों, अर्थात, डेटा इनपुट, डेटा प्रोसेसिंग, डेटा आउटपुट और स्टोरेज में वर्गीकृत किया जा सकता है, जो एक डेटा प्रोसेसिंग साइकल के रूप में जाना जाता है।

डेटा प्रोसेसिंग चक्र का मुख्य उद्देश्य डेटा को सार्थक इनफॉर्मेशन में बदलना है।

डेटा प्रोसेसिंग सिस्टम को अक्सर इनफॉर्मेशन सिस्‍टम के रूप में जाना जाता है।

इनफॉर्मेशन सिस्‍टम आमतौर पर आउटपुट के रूप में इनफॉर्मेशन का उत्पादन करने के लिए इनपुट के रूप में कच्चा डेटा लेती है।

 

डाटा प्रोसेसिंग चक्र में मुख्य चार कार्य होते हैं:

1.  डेटा इनपुट

2.  डेटा प्रोसेस

3.  डेटा स्‍टोरेज

4.  डेटा आउटपुट

 

1) डेटा इनपुट

शब्द इनपुट डेटा को रिकॉर्ड करने के लिए आवश्यक गतिविधियों को संदर्भित करता है।

यह कंप्यूटर सिस्टम में डेटा दर्ज करने की एक प्रोसेस है।

इसलिए हमें किसी भी डेटा को इनपुट करने से पहले, डेटा के संदर्भ को जांचना या सत्यापित करना आवश्यक है।

 

2) डाटा प्रोसेसिंग

शब्द प्रोसेसिंग में डेटा को वर्गीकृत, भंडारण, गणना, तुलना या सारांश जैसी गतिविधियां शामिल हैं।

प्रोसेसिंग का मतलब डेटा को सार्थक इनफॉर्मेशन में बदलने के लिए तकनीकों का उपयोग करना है।

 

3) डेटा आउटपुट

यह एक कम्युनिकेशन फंक्‍शन है जो बाहरी दुनिया के लिए इनफॉर्मेशन प्रसारित करता है।

प्रोसेस पूरी होने के बाद डेटा अर्थपूर्ण में परिवर्तित हो जाता है

कभी-कभी आउटपुट में डिकोडिंग गतिविधि भी शामिल होती है जो इलेक्ट्रॉनिक रूप से उत्पन्न इनफॉर्मेशन को मानव पठनीय रूप में परिवर्तित करती है।

 

4) डाटा स्टोरेज

इसमें भविष्य के उपयोग के लिए डेटा और इनफॉर्मेशन को स्‍टोर करना शामिल है।

 

Components of Computer Hardware in Hindi

Computer Fundamentals in Hindi – कंप्यूटर सिस्टम हार्डवेयर में तीन मुख्य कंपोनेंट्स होते हैं

1.  Input/Output (I/O) Unit

2.  Central Processing Unit (CPU)

3.  Memory Unit

Central Processing Unit

Central Processing Unit (CPU) कंप्‍यूटर के ऑपरेशन को कंट्रोल, कोआर्डिनेट और सूपर्वाइज़ करता है। यह इनपुट डेटा के प्रोसेसिंग के लिए ज़िम्मेदार है। सीपीयू में Arithmetic Logic Unit (ALU) और Control Unit (CU) शामिल हैं।

ALU, इनपुट डेटा पर सभी अरिथमेटिक और लॉजिक ऑपरेशन करता है।

CU, कंप्यूटर के ओवरऑल ऑपरेशन को कंट्रोल करता है, अर्थात यह इंस्‍ट्रक्‍शन के एक्सेक्यूशन सिक्‍वेंस को चेक करता है, और कम्प्यूटर युनिट के ओवरऑल फंक्‍शन को कंट्रोल और कोऑर्डिनट करता हैं।

इसके अलावा, मेमोरी युनिट डेटा प्रोसेसिंग के दौरान CPU में डेटा, इंस्‍ट्रक्‍शन, एड्रेस और कैल्‍युकेशन के रिजल्‍ट को स्‍टोर करता हैं। इस Memory को कंप्‍यूटर कि मुख्‍य मेमोरी या प्राइमरी मेमोरी भी कहां जाता हैं।

प्रोसेसिंग होने से पहले इनपूट डेटा को इस मुख्‍य मेमोरी में लाया जाता है। डेटा प्रोसेसिंग के लिए आवश्यक इंस्‍ट्रक्‍शन और किसी भी इंटरमीडिएट रिजल्‍ट भी मुख्य मेमोरी में स्‍टोर किए जाते हैं। आउटपुट डिवाइस में ट्रांसफर होने से पहले आउपुट को मेमोरी में स्‍टोर किया जाता हैं।

  सीपीयू मुख्य मेमोरी में स्‍टोर इनफॉर्मेशन के साथ काम कर सकता है। एक अन्य प्रकार की स्‍टोरेज युनिट को कंप्यूटर की सेकंडरी मेमोरी के रूप में भी जाना जाता है। डेटा, प्रोग्राम और आउटपुट को कंप्यूटर के स्‍टोरेज युनिट में परमानेंटली स्‍टोर किया जाता है। सेकंडरी स्‍टोरेज में हार्ड डिस्‍क, ऑप्टिकल डिस्क और मैग्‍नेटीप टेप हैं।

 

Comments :-